Connect with us

उत्तर प्रदेश

अजब-गजब। ऑनलाइन गेम में 1 लाख 80 हजार रुपए हारा छात्र, फिर कर डाला ऐसा कांड, पुलिस भी हैरान

ऑनलाइन गेमिंग में एक लाख अस्सी हजार रुपये हारने वाले जनपद हरदोई निवासी आरिज ने दोस्तो के साथ मिलकर खुद के अपहरण की साजिश रची और परिवार से पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी।
अपहरण और फिरौती की सूचना पर सक्रिय हुई शाहजहांपुर पुलिस ने चौबीस घंटे के भीतर अपहृत छात्र को शाहजहांपुर से बरामद कर लिया। पुलिस ने साजिश में शामिल युवक के दो दोस्तों को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधीक्षक नगर संजय कुमार ने सोमवार को बताया कि आरिज शाहबाद थानाक्षेत्र के मोहल्ला दिलावरपुर का रहने वाला और नीट की तैयारी कर रहा है। शाहजहांपुर के मोहल्ला हयातपुर में कोचिंग पड़ता है। रविवार को आरिज कोचिंग के लिए घर से निकला, लेकिन वापस नहीं लौटा। आरिज के मोबाइल नंबर से उसके ताऊ सगीर खां के नंबर पर फोन आया कि आरिज का अपहरण हो गया है और उसको छोड़ने की एवज में अपहरणकर्ताओं ने पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी है। इसके बाद सगीर खां ने थाना शाहबाद पर अपरहणकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। छात्र की बरामदगी के लिए एसओजी, सर्विलांस सेल और थाना कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम को लगाया। टीम ने चौबीस घंटे के भीतर आरिज को नगरिया मोड़ के पास से सुरक्षित बरामद कर लिया।
पूछताछ पर उसने पुलिस को बताया कि उसके पिता अनीस कुबैत में काम करते और वहां से सारा पैसा उसके खाते में भेजते हैं। एक माह पहले ऑनलाइन गेमिंग के दौरान वो एक लाख 80 हजार रुपये हार गया। पैसे वापसी का कोई जरिया न होने और परिवार वालों के डर से उसने हरदोई के एक होटल में अपने दोस्त राजा और अरबाज के साथ मिलकर अपने अपहरण और फिरौती मांगने की योजना बनाई। योजना के तहत तीनों लोग शाहजहांपुर पहुंचे और थाना सदर बाजार क्षेत्र स्थित एक होटल में रुके। होटल के पास से ही राजा ने उसके ताऊ सगीर खां को फोन किया और आरिज का अपहरण कर लेने और छोड़ने की एवज में पहले पांच लाख रुपये फिर एक लाख 80 हजार रुपये की फिरौती मांगी। जिसके बाद राजा और अरबाज तो अपने घर चले गये जबकि वो ट्रेन से बरेली चला गया। बरेली रुकने के बाद वो वापस बस से शाहजहांपुर आया और नगरिया मोड़ पर उतर गया। यहां उसने एक ढाबा के पास पानी के गड्ढे में अपना फोन फेंक दिया। पुलिस ने आरिज का फोन भी बरामद कर लिया है। इस फर्जी अपहरण और फिरौती की साजिश में शामिल आरिज के दोनों दोस्त राजा और अरबाज को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं ब्रेकिंग। रहे सावधान, क्योंकि RPF लालकुआं कर रही ये काम, देखें रिपोर्ट:- वर्ना हो जाएगा मोय-मोय

अजब-गजब। ऑनलाइन गेम में 1 लाख 80 हजार रुपए हारा छात्र, फिर कर डाला ऐसा कांड, पुलिस भी हैरान

ऑनलाइन गेमिंग में एक लाख अस्सी हजार रुपये हारने वाले जनपद हरदोई निवासी आरिज ने दोस्तो के साथ मिलकर खुद के अपहरण की साजिश रची और परिवार से पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी।
अपहरण और फिरौती की सूचना पर सक्रिय हुई शाहजहांपुर पुलिस ने चौबीस घंटे के भीतर अपहृत छात्र को शाहजहांपुर से बरामद कर लिया। पुलिस ने साजिश में शामिल युवक के दो दोस्तों को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधीक्षक नगर संजय कुमार ने सोमवार को बताया कि आरिज शाहबाद थानाक्षेत्र के मोहल्ला दिलावरपुर का रहने वाला और नीट की तैयारी कर रहा है। शाहजहांपुर के मोहल्ला हयातपुर में कोचिंग पड़ता है। रविवार को आरिज कोचिंग के लिए घर से निकला, लेकिन वापस नहीं लौटा। आरिज के मोबाइल नंबर से उसके ताऊ सगीर खां के नंबर पर फोन आया कि आरिज का अपहरण हो गया है और उसको छोड़ने की एवज में अपहरणकर्ताओं ने पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी है। इसके बाद सगीर खां ने थाना शाहबाद पर अपरहणकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। छात्र की बरामदगी के लिए एसओजी, सर्विलांस सेल और थाना कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम को लगाया। टीम ने चौबीस घंटे के भीतर आरिज को नगरिया मोड़ के पास से सुरक्षित बरामद कर लिया।
पूछताछ पर उसने पुलिस को बताया कि उसके पिता अनीस कुबैत में काम करते और वहां से सारा पैसा उसके खाते में भेजते हैं। एक माह पहले ऑनलाइन गेमिंग के दौरान वो एक लाख 80 हजार रुपये हार गया। पैसे वापसी का कोई जरिया न होने और परिवार वालों के डर से उसने हरदोई के एक होटल में अपने दोस्त राजा और अरबाज के साथ मिलकर अपने अपहरण और फिरौती मांगने की योजना बनाई। योजना के तहत तीनों लोग शाहजहांपुर पहुंचे और थाना सदर बाजार क्षेत्र स्थित एक होटल में रुके। होटल के पास से ही राजा ने उसके ताऊ सगीर खां को फोन किया और आरिज का अपहरण कर लेने और छोड़ने की एवज में पहले पांच लाख रुपये फिर एक लाख 80 हजार रुपये की फिरौती मांगी। जिसके बाद राजा और अरबाज तो अपने घर चले गये जबकि वो ट्रेन से बरेली चला गया। बरेली रुकने के बाद वो वापस बस से शाहजहांपुर आया और नगरिया मोड़ पर उतर गया। यहां उसने एक ढाबा के पास पानी के गड्ढे में अपना फोन फेंक दिया। पुलिस ने आरिज का फोन भी बरामद कर लिया है। इस फर्जी अपहरण और फिरौती की साजिश में शामिल आरिज के दोनों दोस्त राजा और अरबाज को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं ब्रेकिंग। रहे सावधान, क्योंकि RPF लालकुआं कर रही ये काम, देखें रिपोर्ट:- वर्ना हो जाएगा मोय-मोय

ऑनलाइन गेमिंग में एक लाख अस्सी हजार रुपये हारने वाले जनपद हरदोई निवासी आरिज ने दोस्तो के साथ मिलकर खुद के अपहरण की साजिश रची और परिवार से पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी।
अपहरण और फिरौती की सूचना पर सक्रिय हुई शाहजहांपुर पुलिस ने चौबीस घंटे के भीतर अपहृत छात्र को शाहजहांपुर से बरामद कर लिया। पुलिस ने साजिश में शामिल युवक के दो दोस्तों को भी गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधीक्षक नगर संजय कुमार ने सोमवार को बताया कि आरिज शाहबाद थानाक्षेत्र के मोहल्ला दिलावरपुर का रहने वाला और नीट की तैयारी कर रहा है। शाहजहांपुर के मोहल्ला हयातपुर में कोचिंग पड़ता है। रविवार को आरिज कोचिंग के लिए घर से निकला, लेकिन वापस नहीं लौटा। आरिज के मोबाइल नंबर से उसके ताऊ सगीर खां के नंबर पर फोन आया कि आरिज का अपहरण हो गया है और उसको छोड़ने की एवज में अपहरणकर्ताओं ने पांच लाख रुपये की फिरौती मांगी है। इसके बाद सगीर खां ने थाना शाहबाद पर अपरहणकर्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई। छात्र की बरामदगी के लिए एसओजी, सर्विलांस सेल और थाना कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम को लगाया। टीम ने चौबीस घंटे के भीतर आरिज को नगरिया मोड़ के पास से सुरक्षित बरामद कर लिया।
पूछताछ पर उसने पुलिस को बताया कि उसके पिता अनीस कुबैत में काम करते और वहां से सारा पैसा उसके खाते में भेजते हैं। एक माह पहले ऑनलाइन गेमिंग के दौरान वो एक लाख 80 हजार रुपये हार गया। पैसे वापसी का कोई जरिया न होने और परिवार वालों के डर से उसने हरदोई के एक होटल में अपने दोस्त राजा और अरबाज के साथ मिलकर अपने अपहरण और फिरौती मांगने की योजना बनाई। योजना के तहत तीनों लोग शाहजहांपुर पहुंचे और थाना सदर बाजार क्षेत्र स्थित एक होटल में रुके। होटल के पास से ही राजा ने उसके ताऊ सगीर खां को फोन किया और आरिज का अपहरण कर लेने और छोड़ने की एवज में पहले पांच लाख रुपये फिर एक लाख 80 हजार रुपये की फिरौती मांगी। जिसके बाद राजा और अरबाज तो अपने घर चले गये जबकि वो ट्रेन से बरेली चला गया। बरेली रुकने के बाद वो वापस बस से शाहजहांपुर आया और नगरिया मोड़ पर उतर गया। यहां उसने एक ढाबा के पास पानी के गड्ढे में अपना फोन फेंक दिया। पुलिस ने आरिज का फोन भी बरामद कर लिया है। इस फर्जी अपहरण और फिरौती की साजिश में शामिल आरिज के दोनों दोस्त राजा और अरबाज को गिरफ्तार कर लिया है।

More in उत्तर प्रदेश

Trending News

Follow Facebook Page

About

अगर नहीं सुन रहा है कोई आपकी बात, तो हम बनेंगे आपकी आवाज, UK LIVE 24 के साथ, अपने क्षेत्र की जनहित से जुड़ी प्रमुख मुद्दों की खबरें प्रकाशित करने के लिए संपर्क करें।

Author (संपादक)

Editor – Shailendra Kumar Singh
Address: Lalkuan, Nainital, Uttarakhand
Email – [email protected]
Mob – +91 96274 58823