लालकुआं। आखिर क्यों अपनी ही सरकार में नगर पंचायत के खिलाफ धरने पर बैठे बीजेपी युवा मोर्चा मंडल अध्यक्ष बॉबी सम्मल?

ख़बर शेयर करें

लालकुआं (नैनीताल)
रिपोर्ट:- शैलेन्द्र कुमार सिंह

नगर पंचायत लालकुआं में हो रही भारी अनियमितताओं को लेकर अपनी ही सरकार में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के लालकुआं मंडल अध्यक्ष बॉबी सम्मल तहसील प्रांगण लालकुआं में धरने पर बैठे हैं। अपनी 8 सूत्रीय मांगों को लेकर बॉबी सम्मल का कहना है कि नगर पंचायत में बड़े पैमाने पर अनियमितताएं और वित्तीय अनियमितताएं हो रही हैं जिसकी जांच होना बेहद आवश्यक है। उन्होंने नगर पंचायत के खिलाफ चरणबद्ध तरीके से आंदोलन छेड़ दिया है जिसके तहत आज उन्होंने धरना प्रदर्शन के प्रथम दिवस के अवसर पर चेतावनी दी है कि जब तक नगर पंचायत लालकुआं में हो रही अनियमितताओं की वास्तविक जांच नहीं हो जाती और दोषियों पर कार्यवाही नहीं हो जाती तब तक उनका धरना प्रदर्शन जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें 👉  (उत्तराखंड) वन एवं वन्य जीव सुरक्षा ही पहली प्राथमिकता:- आरएन गौतम, रेंजर, टांडा रेंज

8 सूत्रीय मांगों में बॉबी सम्मल का कहना है कि नगर पंचायत लालकुआं द्वारा गांधी नगर वार्ड नंबर 2 में स्वर्गीय (महिला उपनिरीक्षक) माया बिष्ट की स्मृति में उनके द्वार का निर्माण कराया गया है जिसकी लागत अत्यधिक प्रतीत होती है इसकी भी जांच होनी चाहिए, इसके अलावा वार्ड नंबर 5 में गुरुद्वारा परिसर के भीतर लगभग 15 लाख रुपए की लागत से बनाए गए शौचालय के निर्माण की भी जांच होनी चाहिए। वही बुध बाजार के निकट बनाए गए मछली बाजार की लागत की भी जांच होनी चाहिए क्योंकि मछली बाजार 23 लाख रुपए की भारी भरकम लगात से बनाया गया है। उन्होंने वार्ड नंबर 4 में मस्जिद परिसर में बनाए गए टीन शेड की कीमत पर भी सवाल उठाए हैं और इसकी भी जांच की मांग की है। इसके अलावा एलईडी और सोलर लाइट की खरीद की भी उन्होंने जांच की मांग की है। अपनी 8 सूत्रीय मांगों में उन्होंने कहा है कि नगर पंचायत में वेल फर्निश्ड नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी और अध्यक्ष के कार्यालय पर साढ़े पांच लाख रुपए से भी अधिक की लागत से टेंडर निकालकर व्यर्थ व्यय करना भी जांच की श्रेणी में आता है और इसकी भी गहनता से जांच होनी चाहिए कि आखिर क्यों सरकारी धन का दुरुपयोग किया जा रहा है। उन्होंने अधिशासी अधिकारी लालकुआं के सरकारी वाहन के दुरुपयोग की भी जांच की मांग उठाई है। बॉबी सम्मल का कहना है कि जब तक इन सभी मुद्दों पर गहनता से जांच नहीं है जाती और दोषियों पर कार्यवाही नहीं हो जाती तब तक उनका अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी रहेगा। उनका कहना है कि जनहित के उपयोग में लाए जाने वाले सरकारी धन का दुरुपयोग किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments