यहां 16 वर्षीय लड़के की मौत का कारण बना मोबाइल ,जाने पूरा मामला

ख़बर शेयर करें

ऑनलाइन मोबाइल गेम ने कम उम्र के बच्चों को अपने चंगुल में इस तरीके से फांस लिया कि अब वो आत्मघाती कदम उठाने से भी पीछे नहीं हट रहे हैं। हाल ही में उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से एक सनसनीखेज मामला सामने आया था, जहां पबजी खेलने से मना करने पर एक 16 साल के बेटे ने अपनी मां की गोली मारकर हत्या कर दी।

वहीं अब मुंबई में एक लड़के को उसकी मां ने मोबाइल गेम खेलने से रोका तो उसने आत्महत्या कर ली।

यह भी पढ़ें 👉  (बड़ी खबर लालकुआं) नगर पंचायत लालकुआं के इस मामले से जुड़ी एक और जांच पहुंची निदेशालय

मोबाइल गेम ने छिनी घर की खुशियां!

मुंबई में एक 16 साल के लड़के ने गुरुवार उस वक्त खुदकुशी कर ली, जब उसकी मां ने उसे मोबाइल पर गेम खेलने से रोक दिया। पुलिस ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि लड़का अपनी मां के लिए एक सुसाइड नोट छोड़कर ट्रेन के आगे कूद गया। डिंडोशी पुलिस के मुताबिक लड़के की मां ने बुधवार शाम को उसका फोन ले लिया, क्योंकि उसे पढ़ने के लिए कहा था, लेकिन वो मोबाइल पर गेम खेल रहा था और मां की बात पर कोई ध्यान नहीं दिया। इसके बाद लड़के ने सुसाइड नोट लिखा और घर से बाहर निकल गया।

यह भी पढ़ें 👉  (बड़ी खबर) लालकुआं नगर पंचायत द्वारा ऐसे किया जा रहा सरकारी धन का दुरुपयोग, पढ़ें व समझें पूरा मामला, देखें वीडियो.....

सुसाइड नोट छोड़कर घर निकला बेटा

मां की इस बात से नाराज लड़का सुसाइड नोट छोड़कर चला गया, जिसके बाद जब उसकी मां घर पहुंची तो उन्होंने उस लेटर को पढ़ा, जिसमें लिखा था कि वह जान देने जा रहा है और फिर कभी नहीं वापस आएगा। इसके बाद परिजनों ने तुरंत डिंडोशी पुलिस थाने में इसकी सूचना दी, जिस पर पुलिस ने उसकी तलाश शुरू कर दी।

यह भी पढ़ें 👉  (बड़ी खबर लालकुआं) नगर पंचायत लालकुआं के इस मामले से जुड़ी एक और जांच पहुंची निदेशालय

ट्रेन के आगे कूदकर दी जान

इस बीच पुलिस को सूचना मिली कि मलाड और कांदिवली स्टेशन के बीच किसी ने ट्रेन के आगे कूदकर अपनी जान दे दी, जिस पर मौके पर पहुंचने पर जांच में पता चला कि यह वो ही लड़का था, जिसने सुसाइड नोट घर पर अपनी मां के लिए छोड़ा था। बोरीवली जीआरपी ने केस दर्ज कर मामले की आगे की जांच शुरू कर दी है।

स्रोत इंटरनेट मीडिया

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments