(रेलवे) ट्रेन में बदला गया रात में सोने का नियम, तुरंत चेक करें रेलवे की नई गाइडलाइंस

ख़बर शेयर करें

भारतीय रेलवे ने ट्रेन में सफर करने के लिए कुछ नियमों में बदलाव किया है। ऐसे में आपके लिए जरूरी है कि आप बदले हुए नियमों के बारे में अपडेट रहें।

नए नियम खासतौर पर रात में सफर करने वाले यात्रियों पर लागू होंगे। रेलवे बोर्ड को यात्रियों से कुछ लोगों द्वारा रात में मोबाइल पर तेज आवाज में बात करने या संगीत सुनने की शिकायत मिलने के बाद यह कदम उठाया गया है।

लिया गया ये फैसला

इसी को ध्यान में रखते हुए बोर्ड ने निर्णय लिया है कि आपकी रात्रि यात्रा के दौरान रात 10 बजे के बाद किसी भी यात्री को मोबाइल पर तेज आवाज में बात करने की अनुमति नहीं होगी और न ही वह तेज आवाज में संगीत सुन सकेगा।

यात्रियों की शिकायत मिलने पर ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसके बाद भी यदि ट्रेन में सो रहे यात्रियों को कोई परेशानी होती है तो इसकी जिम्मेदारी रेल प्रशासन की होगी।

स्टाफ भी रात में करेगा शांति से काम

तेज आवाज की शिकायत के अलावा लोग रात में लाइट जलने की भी शिकायत करते हैं। नए नियम के मुताबिक रात के सफर में रात वाली लाइट को छोड़कर सभी लाइटें बंद करनी होंगी। ऐसी शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जा सकती है। वहीं, रात में चैकिंग स्टाफ, आरपीएफ, इलेक्ट्रीशियन, कैटरिंग स्टाफ व मेंटेनेंस स्टाफ शांति से काम करेगा।

इससे पहले रेलवे ने हाल ही में ट्रेनों के अंदर लिनेन, कंबल और पर्दे उपलब्ध कराना फिर से शुरू करने के आदेश जारी किए थे। देश में बढ़ते COVID-19 मामलों को देखते हुए प्रतिबंध लगाए गए थे।

स्त्रोत इंटरनेट मीडिया

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments