Connect with us

उत्तराखंड

हल्द्वानी। जंगल में आग लगाने वाले शरारती तत्वों पर FIR के निर्देश, वनाग्नि को लेकर DFO हिमांशु बागरी भी अलर्ट, अपील कर टोल फ्री नम्बर की दी जानकारी, देखें रिपोर्ट:-

हल्द्वानी। वनाग्नि को रोकने के लिए DFO हिमांशु बागरी अलर्ट, लोगों से अपील कर टोल फ्री नम्बर की दी जानकारी, देखें रिपोर्ट:-

जंगल में लगातार बढ़ रही आग की घटनाओं को लेकर तराई पूर्वी वन प्रभाग के डीएफओ हिमांशु बागरी ने अहम जानकारी देते हुए टोल फ्री नंबर भी बताया है (1800 180 4075) उन्होंने कहा है कि वन महकमा पूरी मुस्तरी के साथ काम कर रहा है साथ ही फायर वचरों की भी तैनाती की गई है इसके अलावा टोल फ्री नंबर पर जंगल में आग की जानकारी दी जा सकती है जिसके माध्यम से कंट्रोल रूम ऐसे स्थान पर फायर वाचर भेज कर आपको बुझाने का काम कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा है कि उत्तराखंड एक पर्यटक क्षेत्र है और बढ़ती आग की घटनाओं की वजह से पर्यावरण को हानि होती है जिसकी वजह से राज्य में पर्यटक भी नहीं आ पाते हैं और इसका खामियां जाए भी राज्य को उठाना पड़ता है। उन्होंने यह लोगों से अपील करते हुए कहा है कि जंगल में स्वतः ही आग नहीं लगती है इसमें यह तो किसी की गलती होती है या फिर किसी के द्वारा आग लगाई जाती है इसलिए कोई भी पर्यटक या अन्य कोई व्यक्ति जंगल के आसपास के क्षेत्र में आते हैं तो इसका विशेष ख्याल रखें ताकि आम जनमानस के अलावा वन्य जीव भी सुरक्षित रहें।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं ब्रेकिंग। रहे सावधान, क्योंकि RPF लालकुआं कर रही ये काम, देखें रिपोर्ट:- वर्ना हो जाएगा मोय-मोय

हल्द्वानी
संवेदनशील क्षेत्रों में पैनी नजर रखने के साथ ही वनों में आग लगाने वाले शरारती तत्वों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश आयुक्त दीपक रावत ने वीसी के माध्यम से मुख्य वन संरक्षक कुमाऊं पी.के. पात्रो को दिये।
आयुक्त ने कहा कि वनाग्नि घटना की सूचना मिलती है, उस पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए. जिसका रिस्पॉन्स टाइम कम से कम होना चाहिए.मौजूदा समय में कुमाऊं के कई क्षेत्रों में जंगल आग की चपेट में हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को वनाग्नि की रोकथाम के संबंध में स्थानीय स्तर पर प्रभारी वनाधिकारी के स्तर पर अधिकारी नामित करने के साथ ही लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिए हैं। आयुक्त ने कहा कि जिन क्षेत्रों में आग लगी है उन स्थानों पर अधिक से अधिक फायर वाचर तैनात किये जांए ताकि आग पर काबू पाया जा सके। उन्होंने कहा जिन क्षेत्रों में आग लगी है सम्बन्धित क्षेत्रों के फायर वाचर एवं वन रक्षक अवश्य उन क्षेत्रों उपस्थित रहें अपने कार्यक्षेत्र में लापरवाही ना बरतें। उन्होंने निर्देश दिये कि जानबूझकर अगर कोई वनों में आग लगाने की घटना में लिप्त पाया जाता है, तो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।
वीसी में सीसीएफ पीके पात्रो ने कहा कि प्रत्येक रेंज हेतु एक-एक वाहन उपलब्ध करा दिया गया है जिन स्थानों पर फायर वाचरों की कमी है सभी डीएफओ को निर्देश दिये हैं कि फायर वाचरों की तैनाती अपने स्तर से करने के निर्देश दे दिये हैं। वीसी में सीसीएफ ने बताया कि उन्हें पीआरडी एवं होमगार्ड के साथ ही स्थानीय लोगों की आवश्यकता है।
आयुक्त ने कहा कि जिला स्तर से पीआरडी एवं होमगार्ड की तैनाती शीघ्र कर दी जायेगी। जिन क्षेत्रों में आग लगी है आग बुझाने हेतु ग्राम विकास अधिकारी द्वारा स्थानीय लोगों की सीजनली तैनाती की जायेगी। उन्होंने कहा मेन सडक के आसपास आग लगने पर फायर ब्रिगेड की तैनाती भी की जायेगी। आयुक्त ने कहा कि वन क्षेत्र अति संवेदनशील व संवेदनशील हैं, साथ ही आग लगने की घटनाओं की रोकथाम के लिए क्या-क्या उपाय किए जा रहे हैं, इस संबंध में विस्तार से चर्चा की।
वीसी में डीएफओ टीआर बीजू लाल, डा0 विनय कुमार भार्गव के साथ ही सम्बन्धित क्षेत्रों के वनाधिकारी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें 👉  लालकुआं ब्रेकिंग। रहे सावधान, क्योंकि RPF लालकुआं कर रही ये काम, देखें रिपोर्ट:- वर्ना हो जाएगा मोय-मोय

   

More in उत्तराखंड

Trending News

Follow Facebook Page

About

अगर नहीं सुन रहा है कोई आपकी बात, तो हम बनेंगे आपकी आवाज, UK LIVE 24 के साथ, अपने क्षेत्र की जनहित से जुड़ी प्रमुख मुद्दों की खबरें प्रकाशित करने के लिए संपर्क करें।

Author (संपादक)

Editor – Shailendra Kumar Singh
Address: Lalkuan, Nainital, Uttarakhand
Email – [email protected]
Mob – +91 96274 58823